hit and run: हिट एंड रन नया कानून क्या है और इसमें क्या प्रावधान होंगे?

hit and run: नमस्कार साथियों अगर आप आज के इस लेख को अंत तक पढ़ते हो तो आपको पूरी जानकारी हिट एंड रन नए कानून के बारे में दी जाएगी जो कि लोग ऐसा कह रहे हैं कि नया कानून एक काला कानून के तौर पर लेकर आया गया है अगर आप देखने जाए तो जो भी ट्रक ड्राइवर है उनके दिमाग में यही है की हिट एंड रन केस में हमें ₹700000 तुरंत जुर्माना भरना होगा और 10 साल की सजा तुरंत हो जाएंगे लेकिन क्या सच है क्या झूठ है इसकी पूरी जानकारी आपको इसलिए के अंत तक दी जाएगी तो आप इस लेख को अंत तक जरूर पढ़ें.

hit and run क्या है?

हिट एंड रन केस को समझने के लिए आपको थोड़ा समय देना होगा क्योंकि अगर आप इस केस को समझ पाएंगे तो आपके लिए बेहतर होगा ऐसा लोगों का मानना है कि अभी जल्द ही नया कानून बनाया गया हिट एंड रन लेकिन इसमें सबसे ज्यादा और सहज महसूस कर रहे हैं ट्रक ड्राइवर और आजकल दो-तीन दिनों से आंदोलन भी उनके द्वारा चलाए जा रहा है बहुत सारे ट्रक ड्राइवर अभी स्ट्राइक पर है जिसकी वजह से सामानों की आपूर्ति भी रख चुकी है.

ट्रक ड्राइवर के स्ट्राइक की वजह से आपने अभी देखा ही होगा की बहुत सारे देश भर में पेट्रोल पंप ऐसे हैं जहां पर बहुत सारी भीड़ इकट्ठा नजर आ रही है यानी कि लोगों के मन में अभी डर है कि पेट्रोल पंप पर पेट्रोल और डीजल नहीं मिलेगा इसकी वजह से लोग बहुत ज्यादा भीड़ लगाकर पेट्रोल और डीजल भरने की कोशिश कर रहे हैं.

hit and run मैं कितनी होगी सजा?

जैसा कि सरकार के द्वारा यह कानून लेकर आया गया है हिट और कानून लेकिन इस नए कानून में आपको समझने की जरूरत यह है कि यह कानून कहां पर लागू होगा कहां पर नहीं होगा अगर कोई भी चालक चाहे फिर वह चार पहिया वाला हो या फिर बड़ी गाड़ियों वाला है उसके द्वारा एक्सीडेंट अगर हो जाता है या फिर उसकी कोई ऐसी मनसा नहीं होती है तो वह अपने नजदीकी पुलिस स्टेशन में जाकर के जानकारी दे देता है कि वहां पर एक्सीडेंट हो गया है फिर उसके बाद उसमें आपको कुछ छूट के प्रावधान है यानी कि आपके ऊपर मुकदमा होगा और उसे मुकदमा के तहत यह कैसे आगे तक चलेगा और इसके ऊपर छानबीन होंगे अगर ड्राइवर दोषी पाया जाता है तो उसे ₹700000 भरने होते हैं अगर ड्राइवर दोषी नहीं पाया जाता है तो वह छूट जाएगा और उसे कोई सजा भी नहीं होती है.

लेकिन वहीं पर दूसरा प्रावधान यह है कि अब तक देश में जितने भी रोड पर एक्सीडेंट होते हैं चाहे फिर बड़ी गाड़ियों के हैं या फिर छोटी गाड़ियों के हैं आपने देखा होगा कि अक्सर ड्राइवर भाग जाता है उसे भी अपने जान का डर होता है कि वहां की भीड़ इकट्ठा होकर उसे बहुत मारेगी इसकी वजह से ज्यादातर ड्राइवर वहां से भाग जाते हैं. और उसमें कुछ चीज सामने निकल कर नहीं आती है कि गलती किसकी थी या फिर कौन बीच में आ गया था इस केस में यह होगा कि अगर ड्राइवर भाग गया है तो उसके ऊपर 10 साल तक की सजा और 7 लख रुपए तक का जुर्माना सरकार के द्वारा लगाया जाता है यानी कि इस कानून के तहत यह सारे प्रावधान किए गए हैं जो कि यह नए कानून में बताया गया है.

सबसे जानने योग्य बात यह है कि अगर हिट एंड ट्रेन कैसे में ड्राइवर जाकर नजदीकी के पुलिस स्टेशन में जानकारी दे देता है तो उसे समय उसकी 5 साल तक की सजा है और अगर वह दोषी पाया जाता है तो अन्यथा उसका कैसे चलेगा उसे पर छानबीन होगी और उसकी जमानत भी हो जाएगी और जो भी जुर्माना है उसके ऊपर लागू नहीं होगा.

hit and run क्यों हो रहा है आंदोलन

साथियों अभी भी ड्राइवर भाइयों के मन में यह सवाल है कि एक्सीडेंट होने के तुरंत बाद उनसे जुर्माना भरवारा जाएगा लेकिन ट्रक ड्राइवर की आर्थिक स्थिति अगर सही होते तो वह ड्राइविंग नहीं करते और उनकी बड़ी गाड़ियां होने की वजह से कोई भी साइड की गाड़ी अगर टक्कर मारते हैं तो भी उनकी गलती दी जाती है लेकिन ऐसा भी बिल्कुल नहीं है क्योंकि जब आजकल के एडवांस गाड़ी आ चुकी है उसमें पता चलता है आखिरकार कहां से और किस वजह से एक्सीडेंट होने की संभावनाएं थीं इसके ऊपर छानबीन बहुत अच्छी तरीके से होती है और आपने देखा होगा कि आजकल जो भी फोर व्हीलर ड्राइवर है वह काफी ओवर स्पीडिंग के वजह से उनके द्वारा बहुत सारे देशभर में एक्सीडेंट होते हैं इस केस में सबसे ज्यादा उनके ऊपर या कानून लागू होता है और ऐसा सरकार के द्वारा डाटा भी जारी किया गया है कि फोर व्हीलर की ओवर स्पीडिंग की वजह से बहुत ज्यादा एक्सीडेंट देश में देखने को मिले हैं 2020 के मुकाबले 2021 में यह मामला बड़ा है और इसमें मृत्यु दर भी बड़ी है.

जिसकी वजह से सरकार को यह कानून लेकर आना पड़ा है लेकिन आपको कानून के बारे में सोचना समझना और उसके बारे में पढ़ना बहुत जरूरी है कि आखिरकार कानून किस वजह से बनाया गया और कहां पर यह लागू होगा और कहां पर जुर्माना लगेगा और किस जगह पर आपको सजा होगी यह जानना आपके लिए बहुत जरूरी है तो हमने ऊपर आपको अच्छे से बता दिया  है.

hit and run कानून पर लगाई रोक?

अभी फिलहाल ड्राइवर के यूनियन ने गृह मंत्री अमित शाह के साथ मीटिंग की है और ऐसा उनका मानना है कि इस कानून के ऊपर अभी रोक लगाया जाए और उसे पर कुछ विचार विमर्श किया जाए तो फिलहाल इस कानून पर रोक लगा दिया गया है इसके ऊपर विचार विमर्श किया जाएगा कुछ इसमें बदलाव किए जाएंगे उसके बाद यह लागू किया जाएगा तो अगर आप इस कानून के बारे में अच्छी तरह से जानते हैं तो आपको डरने की जरूरत नहीं है और यह कानून सभी ड्राइवर के ऊपर लागू होता है ना कि  ट्रक ड्राइवर के ऊपर, तो आप इस लेख को अपने भाइयों की भी ज्यादा से ज्यादा शेयर कर सकते हैं जिसके लिए उनको अच्छी जानकारी और सही जानकारी प्राप्त हो सके आखिरकार इस कानून में क्या है प्रावधान क्या है और सजा किस प्रकार से होगी और फिलहाल इस कानून पर लॉक लगा दिया गया है.

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Instagram Group Join Now